Home / आलोचना / ननिहाल ग्राम जैत पहुंचेगी स्वास्थ्य कर्मचारियों की पदयात्रा, चौदह सूत्रीय मांगों का सीएम को देंगे ज्ञापन

ननिहाल ग्राम जैत पहुंचेगी स्वास्थ्य कर्मचारियों की पदयात्रा, चौदह सूत्रीय मांगों का सीएम को देंगे ज्ञापन

द्वितीय चरण में चलो ननिहाल यात्रा


सीहोर। शनिवार को मध्य प्रदेश स्वास्थ्य सरोकार संघ प्रदेश अध्यक्ष वन्दना भार्गव के नेतृत्व में ग्राम डोबी से ग्राम जैत (ननिहाल) तक बहुउद्देशीय संवर्ग कर्मचारी पैदल चल कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ग्राम जैत (ननिहाल) पहुंचेंगे। मुख्यमंत्री को स्वास्थ्य कार्यकर्ता संवर्ग के हजारों कर्मचारियों द्वारा चौदह सूत्रीय मांगों का ज्ञापन दिया जाएगा।
जिलाध्यक्ष पुष्पलता भारती ने बताया की शनिवार दोपहर स्वास्थ्य कार्यकर्ता संवर्ग के कर्मचारी शाहगंज पहुंचेंगे यह से डोबी होते हुए पैदल ग्राम जैत पहुंचेंगे। संघ के द्वारा प्रदेश भर के बहुउद्देशीय संवर्ग कर्मचारियों को बुलाया गया है। ग्राम जैत में सभा का आयोजन भी किया गया है। यह पर मुख्यमंत्री श्री चौहान को ज्ञापन प्रदान किया जाएगा। इस के पहले संघ के द्वारा चरणवंद आंदोलन करते हुए चौदह सूत्रीय मांगों का ज्ञापन संभागीय आयुक्तों को दिया गया है। यहीं नहीं कुड़ीधाम माता के दरबार में भी मनोकामना पूर्ती के लिए सिद्धी यज्ञ कर ज्ञापन दिया गया है। प्रथम चरण में ध्यानाकर्षण रैली निकाली गई। द्वितीय चरण में चलो ननिहाल यात्रा निकाली जा रहीं है।

विसंगतियों को लेकर संघ कर रहा संघर्ष

ब्रहमस्वरूप समिति की अनुशंसा के मुताबिक कार्य नहीं किया गया, पांचवे वेतमान की विसंगतियों को दूर नहीं किया गया। बहुउद्देशीय संवर्ग की की परेशानी और बढ़ गई है ब्रहमस्वरूप समिति की अनुशंसा को लागू किया जाकर समस्या का निराकरण किया जाए। कार्यकर्ता संवर्ग संक्रमित बीमारियों के मरीजों के मध्य कार्य करते है जिस के लिए जोखिम वेतन का दस प्रतिशत भत्ता दिया जाए। अलिपिकीय संवर्ग अनुरूप कार्य दायिप्तों का निर्धारण किया जाए। ग्लोबल बजट के तहत प्रति माह यात्रा भत्तों का भुगतान किया जाए। नर्सिंग केडर का दर्जा दिया जाए खण्ड विस्तार प्रशिक्षक अधिकारी को राजपत्रित अधिकारी पद घोषित किया जाए।

शासन की मंशानुरूप सेवाओं के लिए स्वीकृत दो हजार, उप स्वास्थ्य केंन्दों पर एमपीडब्लू, पुरूष एवं उसीमान से एलएच व्ही, एवं एमपीएस के पद स्वीकृत किए जाए। कार्य की समीक्षा केवल तय पांच हजार आबादी पर हीं की जाए न की अधिक आबादी पर। महिला पुरूष पर्यवेक्षकों को उनके कार्य क्षेत्र के हाट बाजारों में दुषित खाद्य पदार्थो के विक्रय पर सेम्प्लिंग कार्य एवें उन के विरूध कार्यवाहीं करने का अधिकार दिया जाए। एमपीएस एलएचव्ही का पद नाम बदलकर स्वास्थ्य एवं स्वच्छता निरीक्षक किया जाए। योग्यता के आधार पर पदोन्नति के अवसर प्रदान किए जाए जैसी अन्य मांगे शामिल है।

इन्होने की है अपील

स्वास्थ्य सरोकार संघ प्रदेश अध्यक्ष वंदना भार्गव, प्रदेश उपाध्यक्ष शैलेंद्र श्रोती, प्रदेश सचिव एसआर आछिया, प्रदेश संगठन सचिव, हंसराज सिंह, अशोक पटैरिया, डॉ कुंदन चंद्रावत, कल्याण सिंह ठाकुर, मनोज नायक, शैलेंद्र पटेरिया, विजय शंकर रावत, देवेंद्र जोशी, सुूरेश जोशी, धीरज दुबे, बीएम दुबे, संतोष प्रजापति, राजेश पाण्डेय, सीहोर जिलाध्यक्ष पुष्पलता भारती ने कर्मचारियों से पद यात्रा में शामिल होने की अपील की है।

x

Check Also

बस में खराबी के लिए हम जिम्मेदार नहीं

इंदौर | डीपीएस के प्रिंसिपल सुदर्शन सोनार को पुलिस ने फिर बयान के लिए बुलाया। सोनार ...