Home / इंदौर / बनाते थे हथियारों के फर्जी लाइसेंस

बनाते थे हथियारों के फर्जी लाइसेंस

इंदौर |हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनाने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के सरगना प्रदीप सागवान और संदीप सोनगरा के खिलाफ क्राइम ब्रांच ने धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। वहीं गिरोह से शस्त्र लाइसेंस बनवाने वाले पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरोह का सरगना प्रदीप फरार है ये खुद को एसपी रैंक का अफसर बनकर लोगों से धोखाधड़ी भी कर चुका है। क्राइम ब्रांच को उसके पुलिस की वर्दी पहने फोटो भी मिले हैं। जल्द ही क्राइम ब्रांच उसकी गिरफ्तारी लेगी। एएसपी क्राइम ब्रांच अमरेंद्र सिंह चौहान ने बताया नागालैंड से शस्त्र लाइसेंस बनाकर शहर में घूमने वाले आरोपी संदीप पिता श्याम सोनगरा (23)नि. सुखलिया, अमन उर्फ अमरदीपसिंह खैरा (26) नि. सांई-अंबिकापुरी कॉलोनी, राजेश पिता रवींद्र सिंह बैस (39)नि. स्लाइस 4 स्कीम नं. 78, नवल किशोर पिता छीतरमल गर्ग(45) नि. स्कीम नं.114, जगदीश पिता अम्बाराम चौधरी(59) नि. निरंजनपुर देवास नाका को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से नागालैंड से बने 32 बोर की एक रिवॉल्वर व 4 पिस्टल व उनके लाइसेंस जब्त हुए हैं।आरोपियों ने बताया कि ये हथियार व लाइसेंस सरगना प्रदीप सागवान ने 4 से 5 लाख में बनाकर दिए थे। कई लोगों ने आरोपी अमरदीप के जरिए प्रदीप से मुलाकात कर लाइसेंस बनवाए हैं। आरोपियों ने कबूला है कि वे कभी भी नागालैंड नहीं गए हैं।
JUNED Indore
x

Check Also

व्यवस्थाएं सुधारने के लिए सरकार पानी की तरह पैसा बहा रही है। लेकिन इस पैसे का जनहित में सही उपयोग नहीं

   सरकार पानी की तरह पैसा बहा रही है          इस पैसे ...